पुलिस कांस्टेबल कैसे बनें? | पुलिस कांस्टेबल कौन होता है?

वर्तमान समय में नौकरी को लेकर प्रतियोगिताएं बहुत बढ़ गई है हर व्यक्ति जॉब पाना चाहता है और अपना भविष्य सुरक्षित करना चाहता हैजिसमें सरकारी नौकरियों को लोग ज्यादा महत्त्व देते हैं हर किसी का सपना होता है की उसे सरकारी नौकरी मिले और हर व्यक्ति अपने लक्ष्य को पाने के लिए कड़ी मेहनत कर करता है किन्तु परिश्रम के साथ सही जानकारी भी जरुरी है.

रेलवे में जूनियर स्टेनोग्राफर कैसे बनें?

यदि आप पुलिस विभाग में कांस्टेबल की जॉब पाना चाहते हैं तोहमारे द्वारा लिखे गए इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें इसमें हम आपको पुलिस कांस्टेबल कैसे बने? इसकी योग्यता क्या होनी चाहिए? सैलरी, प्रमोशन, आदि के बारे में जानकारी देंगे.

police constable Kaise bane
police constable Kaise bane

पुलिस कांस्टेबल कौन होता है?

पुलिस विभाग बहुत बड़ा विभाग है और इसमें बहुत सी पोस्ट होती है पुलिस विभाग के अंतर्गत आने वाली सबसे प्राइमरी पोस्ट पुलिस कांस्टेबल की होती है पुलिस कांस्टेबल को सिपाही कहते है यह पोस्ट महिला और पुरुष दोनों के लिए होती है कांस्टेबल के ऊपर हेड कांस्टेबल, असिस्टेंट सब इंस्पेक्टर, सब इंस्पेक्टर, इंस्पेक्टर और फिर हायर पोस्ट आती है ज्यादातर पुलिस विभाग में दौड़ भाग का काम कांस्टेबल ही करते है.

पुलिस कांस्टेबल बनने के लिए योग्यता

पुलिस कांस्टेबल के आवेदन के लिए उम्मीदवार में निम्नलिखित योग्यताये होनी चाहिए जो इस प्रकार है –

शैक्षणिक योग्यता पुलिस कांस्टेबल बनने के लिए उम्मीदवार को किसी भी स्ट्रीमसे 12वीं पास करनी होगी यदि आपके 33% मार्क्स है तब भी आप आवेदन कर सकते है इसके अलावा कंप्यूटर का बेसिक नॉलेज होना चाहिए.

उम्रसीमा पुलिस कांस्टेबल बनने के लिए पुरुष उम्मीदवार की उम्र 18 से 22 वर्ष और महिला उम्मीदवार की उम्र 18 से 25 वर्ष (सामान्य जाति के लिए )के बीच होनी चाहिए इसके अलावा आरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों के लिए अधिकतम उम्रसीमा में छूट का प्रावधान है जिसमे ओबीसी वर्ग के लिए तीन वर्ष की छूट और एससी/एसटी वर्ग के लिए पांच वर्ष की छूट का प्रावधान है.

प्लम्बर कैसे बनें? योग्यता क्या है और वेतन कितना मिलता है?

शारीरिक योग्यता पुलिस कांस्टेबल बनने के लिए उम्मीदवार के शरीर का वजन लम्बाई के अनुपात में होना चाहिए किसी भी प्रकार की बड़ी बीमारी नहीं होनी चाहिए महिलाओ की लम्बाई 152 सेमी तथा पुरुषो की लंबाई 168 सेंमी होनी चाहिए.

अन्य योग्यताएं यदि उम्मीदवार शादीशुदा है तो दो से ज्यादा बच्चे नहीं होने चाहिएउम्मीदवार भारत का नागरिक होना चाहिए.

पुलिस कांस्टेबल का सिलेक्शन प्रोसेस क्या है?

सबसे पहले आवेदन करना होगा और फिर उसके बाद पुलिस कांस्टेबल का सिलेक्शन प्रोसेस जो कि तीन चरणों में बांटा गया है पहला रिटन एग्जाम दूसरा फिजिकल टेस्ट और तीसरा मेडिकल टेस्ट जो कि इस प्रकार है –

रिटन एग्जामयह परीक्षा 2 घंटे की होती है जिसमे 300 प्रश्न पूछे जाते है जिसमें GK से 38 प्रश्न (76 अंक ), हिंदी से 37 प्रश्न (74 अंक),  नुमेरिकल एंड मेंटल एबिलिटी से 38 प्रश्न (76 अंक),  मेंटल ऐप्टिट्यूड, आईक्यू, रिजनिंग एबिलिटी से 37 प्रश्न (74 अंक) के प्रश्न पूछे जाते है इसमें 1/2  की माइनस मार्किंग होती है.

फिजिकल फिटनेसइसमें महिला उम्मीदवार के लिए 5 किमी की दौड़ 35 मिनट में और पुरुषो के लिए 25 मिनट पूरा करना अनिवार्य है जो इस टेस्ट को पास कर लेते है इसके बाद उनके सीने की माप होती है जो सिर्फ पुरुषो के लिए होती है.

डॉक्युमेंट वेरिफिकेशनइस चरण में आपके सभी प्रकार के ओरिजिनल प्रमाण पत्रों की बारीकी से जाँच होती है.

रेलवे में TC कैसे बने?

मेडिकल टेस्टउपर्युक्त सभी प्रकार के टेस्ट पास कर लेने के बाद उम्मीदवार का मेडिकल टेस्ट होता है इस टेस्ट में आपके आँखों की जांच, कानो की जाँच, आवाज, तथा ब्लड ग्रुप की जाँच की जाती है और यह भी देखा जाता है कि आपका कोई अंग क्षतिग्रस्त तो नहीं है, यदि किसी अंग में कोई भी खराबी होती है तो आपकी भर्ती नहीं होगी आँखों की नज़र 6/6 होनी चाहिए यदि आप पूर्णता स्वस्थ है तभी आपको आगे के प्रोसेस के लिए बुलाया जाता है.

नियुक्ति इन सभी टेस्ट को पास कर लेने के बाद आपकी नियुक्ति कांस्टेबल के पद पर हो जाती है.

पुलिस कांस्टेबल के लिए एग्जाम पैटर्न

यह परीक्षा लिखित यानि ऑफलाइन होती है यह परीक्षा 2 घंटे की होती है जिसमे 300 प्रश्न पूछे जाते है जिसमें GK से 38 प्रश्न (76 अंक ), हिंदी से 37 प्रश्न (74 अंक),  नुमेरिकल एंड मेंटल एबिलिटी38 प्रश्न (76 अंक),  mental aptitude, IQ, Reasoning ability 37 प्रश्न (74 अंक) के  प्रश्न पूछे जाते है इसमें 1/2  की माइनस मार्किंग होती है.

पुलिस कांस्टेबल के कार्य

यदि कोई व्यक्ति कांस्टेबल पद पर नियुक्त होता है तो उसको निम्नलिखित कार्य करने पड़ते है –

  • किसी भी प्रकार की जाँच में सहयोग देना
  • थाने तथा ग्राउंड पर ड्यूटी करना
  • कैदियों की निगरानी करना तथा पेशी के समय कोर्ट में ड्यूटीदेना
  • पेट्रोलिंग में ड्यूटी करना और उच्च अधिकारयोंके वाहन चालक के रूप में कार्य करना
  • उच्च अधिकारियो के द्वारा दिए गए कार्य को करना
  • किसी बड़े जुलूस की भगदड़ को शांत कराना और व्यवस्था देखना

पुलिस कांस्टेबल की सैलरी कितनी होती है?

इस पद के लिए आपको अच्छा खासा सैलरी पैकेज दिया जाता है कॉन्स्टेबल के पद के लिए सरकार द्वारा आपको ₹28,000 से लेकर 40 ह़जार रुपए तक प्रतिमाह सैलरी मिलती हैं यह सैलरी अलग-अलग राज्यों के हिसाब से कम या ज्यादा हो सकती है.

प्रमोशन प्रक्रियासमय-समय पर प्रमोशन ( पदोन्नति ) की प्रक्रिया होती रहती है जिससे निम्न पद पर नियुक्त व्यक्ति उच्च पद पर नियुक्त किया जाता है कांस्टेबल को हेड कांस्टेबल फिर,ASIइसके बाद SI और फिर इंस्पेक्टर के पद पर प्रमोट किया जाता है पद के साथ सैलरी भी बढ़ती है

इस लेख में कांस्टेबल कौन होता है?, इसका सिलेक्शन प्रोसेस क्या है? योग्यता क्या होनी चाहिए?, एग्जाम पैटर्न, इसके कार्य, तथा सैलरी कितनी मिलती है? इस विषय में बताया गया है यदि आपको यह लेख पसंद आया और आप ऐसे ही और विषयो के बारे में जनना चाहते है तो आप हमें कमेन्ट कर सकते है.

Leave a Comment