डीएसपी का पूरा नाम क्या है? | DSP kaise बने पूरी जानकारी

डीएसपी को हिंदी में उप पुलिस अधीक्षक कहते है यह पुलिस विभाग में एक ऊंचा पद होता है इस पद पर जो व्यक्ति होता है उसे पुलिस विभाग के अनेक अधिकारों की जिम्मेदारी सौंपी जाती है जिसके आधार पर वह किसी भी क्षेत्र में पहुँचकर निरीक्षण कर सकता है डीएसपी बनने के लिए अभ्यर्थी का चयन राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा किया जाता है.

इस पद से उम्मीदवार को सम्मान के साथ साथ अच्छा वेतन भी दिया जाता है यदि आप भी डीएसपी बनना चाहते हैं तो यहाँ हम आपको डीएसपी कैसे बने, योग्यता, आयु, चयन प्रक्रिया, सैलरी की संपूर्ण जानकारी प्रदान की जा रही है.

dsp kaise bane puri jankari
dsp kaise bane puri jankari

डीएसपी का पूरा नाम क्या है?

डीएसपी का फुल फॉर्म डिप्टी सुपरिंटेंडेंट ऑफ पुलिस होता है.

MSW कोर्स क्या होता है

डीएसपी कैसे बने?

पुलिस विभाग में अनेकों पद होते हैं जिसमें से डीएसपी का भी एक पद होता है यह  पद एक अधिकारी का होता है “डीएसपी का फुल फॉर्म डिप्टी सुपरिंटेंडेंट ऑफ पुलिस” होता है जिसको हिंदी में उप पुलिस अधीक्षक कहते हैं इसके लिए राज्य लोक सेवा आयोग द्वारा परीक्षा आयोजित की जाती है.

डीएसपी बनने के लिए योग्यता

डीएसपी बनने के लिए अभ्यर्थी को किसी स्नातक की परीक्षा में सफलता प्राप्त करना आवश्यक होता है क्योंकि इसके बाद ही अभ्यर्थी इस पद के लिए आवेदन कर सकते हैं इसके साथ ही जो अभ्यर्थी स्नातक के अंतिम वर्ष में पढ़ाई कर रहे हैं वो अभ्यर्थी भी परीक्षा में शामिल हो सकते हैं लेकिन अंतिम वर्ष वाले अभ्यर्थियों डॉक्यूमेंट वेरिफिकेशन के समय उत्तीर्ण का अंक पत्र देना होगा.

B.Ed करने के फायदे

डीएसपी की सैलरी कितनी होती है?

एक डीएसपी को वेतन बैंड 15600 39100 सैलरी दी जाती है जिसके साथ ही डीएसपी को ग्रेड पे 5400 के साथ सैलरी प्राप्त होती है.

डीएसपी के पद के लिए आरोही क्रम

उप पुलिस अधीक्षक (DSP) अतिरिक्त
पुलिस अधीक्षक (ASP) पुलिस अधीक्षक
(SP) वरीष्ठ पुलिस अधीक्षक (SSP)
पुलिस महानिरीक्षक (DIGP) पुलिस
महानिरीक्षक (IGP) अतिरिक्त पुलिस
महानिदेशक (ADGP) पुलिस महानिदेशक

 

डीएसपी चयन प्रक्रिया

डीएसपी की परीक्षा का आयोजन राज्य लोकसेवा आयोग के द्वारा किया जाता है इस परीक्षा को तीन भागों में विभाजित किया जाता है जो इस प्रकार है-

  • प्रारंभिक परीक्षा
  • मुख्य परीक्षा
  • साक्षात्कार
  1. प्रारंभिक परीक्षा

डीएसपी बनने के लिए अभ्यर्थियों को पहले चरण में प्रारंभिक परीक्षा पास करनी होती है इस परीक्षा में जनरल स्टडी के प्रश्न पूछे जाते हैं जिसके लिए 150 अंक निर्धारित किए गए हैं इसमें वैकल्पिक विषय 300 अंक का दिया जाता है.

  1. मुख्य परीक्षा

जो अभ्यर्थी प्रारंभिक परीक्षा में सफलता प्राप्त कर लेते है तो उन्हें मुख्य परीक्षा में शामिल किया जाता है इस परीक्षा में अनिवार्य विषय के अंतर्गत भारतीय भाषा के लिए 300 अंक निर्धारित किए गये हैं जो अंग्रेजी में 300 अंक निबंध 200 अंक जर्नलिस्ट स्टडी 300 अंक वैकल्पिक विषय के लिए अंक दो डिजिट में निर्धारित किए गए हैं.

  1. साक्षात्कार

प्रारम्भिक परीक्षा प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा में सफलता प्राप्त करने वाले अभ्यर्थियों को अंतिम चरण में साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है जिसका आयोजन आयोग द्वारा होता है इसमें भाग लेने वाले प्रत्येक अभ्यर्थी को आयोग द्वारा निर्धारित समित के सामने साक्षात्कार देना होता है इसमें अब अभ्यर्थी से कुछ प्रश्न पूछे जाते हैं और साथ ही अभ्यर्थी की मानसिक स्तर की जांच की जाती है इसके बाद जो अभ्यर्थी इसमें सफलता प्राप्त कर लेता है उन्हें डीएसपी पद के लिए नियुक्त कर लिया जाता है.

CTET पास करने के फायदे

अभ्यर्थी ऐसे करें परीक्षा की तैयारी

  • अभ्यर्थी परीक्षा की अच्छे ढंग से तैयारी करने के लिए अभ्यर्थियों को पूर्व वर्ष में पूछे गए प्रश्नों को हल करके देखना चाहिए.
  • इसके लिए आप इंटरनेट की भी सहायता ले सकते हैं.
  • अभ्यार्थी इसकी तैयारी के लिए कोचिंग भी कर सकते हैं.
  • अभ्यर्थियों को फिजिकल टेस्ट के लिए परीक्षा में शामिल होने से छ: महीने पहले से ही तैयारी शुरू कर देनी चाहिए और इसके साथ ही सुबह उठकर व्यायाम करना चाहिये, ताकि उनका दिमाग बहुत अच्छा और रहे हैं और अच्छे से पढ़ाई कर सकें.
  • परीक्षा की तैयारी पाठ्यक्रम के मुताबिक की जाती है.

निष्कर्ष

आज हमने आपको डीएसपी बनाने की संपूर्ण जानकारी आर्टिकल के माध्यम से उपलब्ध करायी है यदि आपको इससे संबंधित कोई अन्य जानकारी प्राप्त करनी हो तो हमें कमेंट में जरूर बतायें.

Leave a Comment