प्लम्बर कैसे बनें? योग्यता क्या है और वेतन कितना मिलता है?

Plumber kaise bane: आज के समय में नौकरी के लिए प्रतिस्पर्धा बहुत बढ़ गई है छोटी से छोटी जॉब पाने के लिएभी बहुत कठिन परिश्रम करना पड़ता है आजकल ज्यादातर कंपनियां स्किल्स के आधार पर जॉब देती है यदि आपके पास किसी भी प्रकार की स्किल है चाहे वह मैकेनिकल हो या टेक्निकल जीविकोपार्जन के लिए लाभदायक है आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको बताएंगे कि प्लम्बर कैसे बने?, और साथ ही इसके लिए क्या योग्यता होती है? और वेतन कितना मिलता है? इन सभी विषयों के बारे में जानेंगे तो आर्टिकल को अंत तक जरूर पढें.

plumber kaise bane
plumber kaise bane

प्लम्बर किसे कहते हैं?

नल की फिटिंग या मरम्मत करनेवाले तथा मकानों में रिसाव रहित जल की आपूर्ति हेतु पाइप लाइनों को व्यवस्थित ढंग से सेटिंग करने वाले व्यक्ति को प्लंबर कहते हैं.

रेलवे में जूनियर स्टेनोग्राफर कैसे बनें?

नल की फिटिंग करना, मरम्मत करना, जल आपूर्ति और निकास से संबंधित सभी प्रकार के कार्य प्लंबर को करने होते हैं प्लंबिंग का कार्य सीखने के लिए आप इससे संबंधित कोर्स कर सकते हैं.

प्लंबर बनने के लिए योग्यता

प्लंबर बनने के लिए व्यक्ति में कुछ योग्यताएं होनी चाहिए जैसे किसी मान्यता प्राप्त बोर्ड से दसवीं उत्तीर्ण करना होगा यदि साइंस स्ट्रीम है तो बेहतर होगा इसके बाद सरकारी या प्राइवेट आईटीआई संस्थान से प्लंबिंग डिप्लोमा कोर्स करना होगाइसके बाद आप प्लम्बर बनने के लिए आवेदन कर सकते हैं.

प्लंबर कैसे बने?

प्लंबर बनने के लिए आपकिसी एक्सपर्ट प्लम्बर के साथ उसके असिस्टेंट के रूप में काम करके प्लंबिंग का काम सीख सकते हैं इसके अलावा आईटीआई संस्थान भी इस कोर्स को करवातें हैं.

  • प्लंबर बनने के लिए प्लंबिंग का कोर्स करना होता है जिसके लिए आपको दसवीं कक्षा उत्तीर्ण करनी है.
  • इसके बाद किसी सरकारी या प्राइवेट आईटीआई संस्थान के माध्यम से प्लंबिंग का कोर्स कर सकते हैं.
  • यह कोर्स लगभग एक वर्ष का होता है जिसमे थ्योरी के साथ प्रैक्टिकल नॉलेज भी दिया जाता है.
  • इस कोर्स में पाइप लाइनों की सेटिंग नल की फिटिंग आदि जैसे कार्यों का प्रैक्टिकल नॉलेज दिया जाता है.
  • कोर्स पूरा होने के बाद आपको संबंधित कोर्स का सर्टिफिकेट प्रदान किया जाता है
  • कंपनियों द्वारा प्लम्बर हेतु सूचनाएं जारी की जाती है जिनके तहत आप प्लंबिंग का कार्य कर सकते हैं

प्लम्बर का काम क्या होता है?

निजी घरों या भवनों के निर्माण के समय पाइपलाइनों द्वारा पानी की आपूर्ति, गैस की आपूर्ति, गंदे पानी का निकास जैसे इकाइयों को स्थापित करने तथा उनकी मरम्मत करने के लिए प्लंबर की आवश्यकता होती है इसके अलावा प्लंबर को निम्नलिखित कार्य करने होते है.

  • भवनों में पाइपलाइनों से संबंधित समस्याओं को हल करना.
  • घरों में रिसाव रहित पानी की आपूर्ति तथा निकास के लिए पाइप की सेटिंग करना.
  • घरो में रिन्यूअल के समय ब्लू प्रिंट की सहायता से योजना बनाना.
  • घरों में ट्यूब, पाइप या अन्य चीजों की मरम्मत करके उन्हें ठीक करना.
  • सभी कार्य कुशलता के साथ करना ताकि समस्या का दीर्घकालीन समाधान हो सके.
  • प्लंबिंग से संबंधित उपकरणों के खराब होने पर उन्हें ठीक करने के लिए काटना, जोड़ना तथा वल्डिंग करना आदि.
  • सीवर तथा नालों में पानी के बहाव के लिए पाइप लाइन बिछाना.
  • बाथरूम, शौचालय, सिंक आदि के लिए पाइप बिछाना तथा जलापूर्ति करना और साथ ही जल निकास की व्यवस्था करना .

प्लम्बर के लिए कैरियर क्षेत्र के विकल्प

प्लम्बर का काम सीखने के बाद आप कई जगह कार्य कर सकते हैं.

  • भवन के निर्माण के लिए किसी कंपनी द्वारा काम करना.
  • प्लंबर का काम सीखने के बाद सरकारी नौकरी भी मिल सकती है.
  • प्लंबिंग का काम सीखकर आप ठेके पर बिज़नेस कर सकते हैं.
  • इंस्ट्रक्टर के तौर पर आप किसी संस्थान में नौकरी कर सकते हैं.
  • जिन क्षेत्रों का नगरीकरण किया जा रहा हो वहाँ काम मिल सकता है.

प्लंबर की सैलरी कितनी होती है?

किसी काम की शुरुआत करने से पहले व्यक्ति उससे मिलने वाले वेतन के बारे में जरूर जानना चाहता है तो हम आपको बता दें कि प्लंबिंग का कार्य सीखकर आप प्लम्बर के तौर पर ₹10,000 से ₹15,000 तक की मासिक सैलरी प्राप्त कर सकते हैं समय और अनुभव के साथ धीरे धीरे वेतन बढ़ता जाता है.

यदि आप स्वयं का बिज़नेस यानी ठेके पर किसी भावन का निर्माण या प्लंबिंग से संबंधित अन्य कार्य करते हैं तो श्रमिकों के मेहनताना के अतिरिक्त बची धनराशिमें लाभ कमा सकते हैं.

Leave a Comment