वकील (Advocate) कैसे बनें? | वकील कौन होता है?

आज के समय में सभी व्यक्ति अपना कैरियर बनाना चाहते है और पैसे कमाना चाहते है यदि आपकी रूचि वकील बनने में है और आप वकालत की पढाई करना चाहते है तो आज के इस आर्टिकल के माध्यम से हम आपको वकील बनने के लिए योग्यता क्या होनी चाहिए, आवेदन प्रक्रिया क्या होती है और परीक्षा पैटर्न क्या है एक वकील को कितनी सैलरी मिलती है इन सभी विषयों के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान करेंगे इसलिए आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें.

Vakil Kaise bane in Hindi
Vakil Kaise bane in Hindi

वकील कौन होता है?

वकील का कार्य होता है लोगो की बात को अपने ज्ञान, बुद्धि कौशल, और भाषा शक्ति से प्रभावी ढंग से प्रस्तुत करना और लोगो को वैधानिक सलाह देना,जिससे जनता को न्याय मिल सके देश की न्याय व्यवस्था में वकील का बहुत बड़ा योगदान होता है एक वकील अपने क्लाइंट के लिए वकालत करता है और उसे न्याय दिलाता है.

वकील बनने के लिए योग्यता

  • वकील बनने के लिए उम्मीदवार को सबसे पहले किसी भी स्ट्रीम में 12वी उत्तीर्ण करना होगा जिसमे न्यूनतम 50% अंक होने चाहिए
  • आरक्षित वर्ग OBC के लिए 45% और SC/ST के लिए 40% न्यूनतम  मार्क्स होने चाहिए.
  • जिसके बाद आप CLAT (Common Law Admission Test) परीक्षा दे सकते है और भारत की टॉप यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेकर अपना वकील बनने का सपना पूरा कर सकते है.
  • 12वी के बाद पांच साल की लॉ डिग्री करनी होती है.
  • यदि आप ग्रेजुएशन कर चुके है तो आपको तीन साल की लॉबैचलर डिग्री करनी होती है.

वकील कैसे बने?

वकील बनने के लिए सबसे पहले आपको 12वी पास करना होगा उसके बाद CLAT प्रवेश परीक्षा पास करके लॉ यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेकर वकालत की पढाई करनी होगी जिसमे आपको पांच वर्ष का समय लगेगा यदि आपने ग्रेजुएशन कर ली है तो आपको तीन साल की लॉबैचलर डिग्री पूरी करनी होगी वकालत की पढाई पूरी कर लेने के बाद आपको बार काउन्सिल परीक्षा देनी होगी और फिर परीक्षा पास करने के बाद आपको प्रशिक्षण लेना होगा और वकील के रूप में पंजीकरण करवाना होगा जिसके बाद आप कुछ समय किसी वरिष्ठ वकील के असिस्टेंट के रूप में कार्य कर सकते है और फिर आप स्वयं वकालत कर सकते है और आप एक वकील कहलायेंगे.

वकील बनने के लिए कोर्स

  • LL.B. (Bachelor of Laws) तीन साल
  • LL.M. (Master of Laws) दो साल
  • Doctor of Philosophy (PHD)
  • Master of Business Law

Integrated under graduate degrees पांच साल 

  • B.A LL.B.
  • B.Sc LL.B.
  • BBA LL.B.
  • B.Com LL.B.

प्रवेश परीक्षा पैटर्न

CLAT का फुल फार्म Common Law Admission Test होता है यह प्रवेश परीक्षा टॉप लॉ यूनिवर्सिटी में एडमिशन के लिए करायी जाती है जिसे क्लियर करके आप अपना वकील बनने का सपना पूरा कर सकते है 200 अंकों की यह परीक्षा 2 घंटे की होती है जिसमे 200 प्रश्न पूछे जाते है जो इंग्लिश, GK, गणित, रीजनिंग करंट अफेयर्स आदि से होते है इसमें ¼ की नेगेटिव मार्किंग होती है इस परीक्षा को पास करने के लिए आपको मेहनत करनी होगी.

लॉ यूनिवर्सिटी में आवेदन प्रक्रिया

वकील बनने के लिए सबसे पहले आपको लॉ की पढाई करनी होगी जिसके लिए आपको किसी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय में एडमिशन लेना होगा इसके लिए उस विश्वविद्यालय की वेबसाइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन करना होगा जिसके बाद आपको यूजर नाम और पासवर्ड मिलेगा जिसके बाद आप जो कोर्स करना चाहते है उसका चयन करना होगा बाकी सारी जानकारिया भी भरनी होंगी इसके बाद प्रवेश परीक्षा होगी और फिर लिस्ट जारी होगी उसी के आधार पर आपका चयन एडमिशन के लिए किया जायेगा होगा.

लॉ में स्पेशलाइजेशन

लॉ की पढाई में किसी एक क्षेत्र में स्पेशलाइजेशन करने से आप उस क्षेत्र में महारथ हासिल कर लेते है जिससे उस विषय से सम्बंधित किसी भी प्रकार की समस्या को बहुत ही आसानी से ख़तम कर सकते है और अपने क्लाइंट को संतुष्ट कर सकते है.

  • टैक्स लॉ
  • साइबर लॉ
  • फैमिली लॉ
  • पेटेंट अटॉर्नी
  • बैंकिंग लॉ
  • क्रिमिनल लॉ

वकील की सैलरी

किसी भी कोर्स को करके जॉब करने से पहले व्यक्ति के मन में उससे मिलने वाले वेतन के बारे में जानने की जिज्ञासा उत्पन्न होती है तो हम आपको बता दें कि वकील बनने के बाद आप एक अच्छी इनकम जेनेरेट कर सकते है यदि आप सरकारी वकील है तो आपकी सैलरी लगभग 50000 रुपये प्रतिमाह या उससे अधिक भी हो सकती है और यदि आप प्राइवेट सेक्टर में काम करते है तो यह आपके ज्ञान और अनुभव पर निर्भर करता है की आप कितना पैसा कमाते है.

आशा है की हमारे द्वारा दी गयी जानकारी “वकील कैसे बने?” आपको पसंद आई होगी और यदि आप ऐसे ही किसी अन्य विषय के बारे में जानना चाहते है तो हमें कमेंट कर सकते है.

Leave a Comment