सीडीपीओ कैसे बने? | CDPO ऑफिसर क्या है?

वर्तमान समय में सभी व्यक्ति अपना करियर एक अच्छे मुकाम पर बनाना चाहते हैं जिसके लिए उन्हें कड़ी मेहनत और लगनके साथअपने करियर पर फोकस करना पड़ता है भारत में बहुत सी जॉब अपॉर्चुनिटी उपलब्ध है यदि आप सीडीपीओ बनना चाहते हैं तो आज का यह आर्टिकल आपके लिए ही हैं आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से सीडीपीओ कैसे बने?, इसके लिए क्या योग्यता होती है, और सैलरी कितनी मिलती है इन सभी विषयों के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे इसलिए आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें.

cdpo officer Kaise bane
cdpo officer Kaise bane

सीडीपीओ कौन होता है?

सीडीपीओ का फुल फॉर्म चाइल्ड डेवलपमेंट प्रोजेक्ट ऑफिसर होता है जिसकी नियुक्ति राज्य सरकार द्वारा की जाती है सीडीपीओ का कार्य देश भर के 6 वर्ष से कम के बच्चों से संबंधित सभी प्रकार की जानकारी जैसे- उनके भरण पोषण, स्वास्थ्य, विकास, बाल रोग, रोगों के निवारण आदिका डाटा रखना होता है साथ ही गर्भवती महिलाओं को स्वास्थ्य सुविधाएं और पोषण युक्त खाद्य पदार्थ उपलब्ध करवानेकी जिम्मेदारी प्रदान की जाती है.

सीडीपीओ कैसे बने?

राज्य सरकार द्वारा प्रत्येक वर्ष PCS की परीक्षा आयोजित की जाती है जिसके माध्यम से सीडीपीओ की नियुक्ति की जाती है इसके लिए कैंडिडेट को सबसे पहले आवेदन करना होगा आवेदन के लिए कैंडिडेट में राज्य सरकार द्वारा निर्धारित सभी पात्रताएं होनी चाहिए आवेदन के पश्चात परीक्षाएं आयोजित की जाएंगी जो कि तीन चरणों में होगी परीक्षाओं को उत्तीर्ण करने के बाद मेरिट लिस्ट तैयार की जाएगी यदि मेरिट लिस्ट में कैंडिडेट का नाम होगा तो उसे सीडीपीओ के पद पर नियुक्त किया जाएगा इस प्रकार कैंडिडेट सीडीपीओ बन सकते हैं.

सीडीपीओ बनने के लिए योग्यता

सीडीपीओ बनने के लिए उम्मीदवार को राज्य सरकार द्वारा निर्धारित सभी पात्रता मापदंडों को पूरा करना होगा जो कि निम्नलिखित है-

शैक्षणिक योग्यता

सीडीपीओ बनने के लिए उम्मीदवार को सबसे पहले 12वीं की परीक्षा उत्तीर्ण करनी होगी इसके बाद कैंडिडेट को किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से समाजशास्त्र विषय में स्नातक की डिग्री प्राप्त करनी होगी.

उम्रसीमा

सीडीपीओ बनने के लिए उम्मीदवार की न्यूनतम आयु 21 वर्ष और अधिकतम आयु 37 वर्ष होनी चाहिए आरक्षित वर्ग के उम्मीदवारों को अधिकतम उम्र सीमा में छूट का प्रावधान है जिसमें ओबीसी वर्ग को 3 वर्ष की छूट और एससी/एसटी वर्ग को 5 वर्ष की छूट प्रदान की जाती है.

सीडीपीओ बनने के लिए परीक्षा पैटर्न

सीडीपीओ पद के लिए राज्य सरकार द्वारा PCS की परीक्षा आयोजित की जाती है जो कि तीन चरणों में होती है पहला प्रारंभिक परीक्षा, दूसरा मुख्य परीक्षा और तीसरा इंटरव्यू. इन तीनों परीक्षाओं को पास करने के पश्चात् कैंडिडेट को सीडीपीओ के पद पर नियुक्त कर दिया जाता है.

प्रारंभिक परीक्षा

सबसे पहले कैंडिडेट को प्रारंभिक परीक्षा में बैठना होता है जिसमें सामान्य ज्ञान से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं जिसमें 150 प्रश्न हल करने के लिए 2 घंटे का समय निर्धारित किया गया है.

मुख्य परीक्षा

प्रारंभिक परीक्षा पास करने के पश्चात कैंडिडेट को मुख्य परीक्षा के लिये बुलाया जाता है मुख्य परीक्षा में 2 प्रश्नपत्र होते हैं प्रत्येक प्रश्नपत्र 300 अंक का होता है जिसमे 100 प्रश्न पूछे जाते हैं जिसे हल करने के लिए 3 घंटे का समय निर्धारित किया जाता है.

साक्षात्कार

दोनों परीक्षाएं पास करने के बाद कैंडिडेट को इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है यह एक प्रकार का पर्सनालिटी टेस्ट होता है जिसमें कैंडिडेट से कुछ सवाल जवाब किए जाते हैं उसकी मानसिक और तार्किक शक्ति का परीक्षण किया जाता है हाव भाव संबंधी सभी चीजें नोटिस की जाती है जिसके आधार पर कैंडिडेट को अंक प्रदान किए जाते हैं.

इंटरव्यू में पास होने के बाद मेरिट लिस्ट तैयार की जाती है जिसके बाद यदि मेरिट लिस्ट में कैंडिडेट का नाम होता है तो उसे सीडीपीओ की पोस्ट के लिए नियुक्त किया जाता है.

सीडीपीओ की सैलरी

किसी भी पोस्ट को ज्वॉइन करने से पहले व्यक्ति के मन में उससे मिलने वाले वेतन के बारे में जानने की जिज्ञासा उत्पन्न होती है तो हम आपको बता दें कि सीडीपीओ ऑफिसर को लगभग ₹53,000 से लेकर ₹1,67,000 तक वेतन प्रदान किया जाता है वेतन के अतिरिक्त सीडीपीओ ऑफिसर को अन्य सुविधाएं भी प्रदान की जाती है जैसे- मुफ्त आवास, मुफ्त चिकित्सा, मुफ्त यात्रा, मुफ्त वाहन, और ड्राइवर, मुफ्त बिजली, सेवानिवृत्ति के पश्चात पेंशन आदि.

CDPO बनने की तैयारी कैसे करें

  • किसी भी परीक्षा की तैयारी करने से पहले आपको समय प्रबंधन करना बहुत ही आवश्यक है.
  • सबसे पहले आपको परीक्षा का सिलेबस पता करना होगा और उसका अध्ययन करना होगा.
  • सिलेबस को योजनाबद्ध तरीके से तैयार करना होगा जिसके लिए आप सिलेबस को कई भागों में विभाजित करके पढ़ाई कर सकते हैं.
  • यदि आप सेल्फ स्टडी के माध्यम से परीक्षा पास करने की क्षमता रखते हैं तो स्वयं ही पढ़ाई कर सकते हैं किंतु यदि आपको किसी गाइड की जरूरत है तो आप किसी कोचिंग को ज्वॉइन कर सकते हैं.
  • ऑफलाइन अध्ययन सामग्री के साथ साथ आपको ऑनलाइन अध्ययन सामग्री पर भी ध्यान देना होगा जिससे आपको चीजें ज्यादा जल्दी समझ आएंगी.
  • PCS की परीक्षाएं तीन चरणों में आयोजित की जाती है.
  • यदि आपने अपना सिलेबस कंप्लीट कर लिया है तो आप मॉक टेस्ट देते रहें जिससे आपको पता चलता रहेगा कि आपने कितनी तैयारी की है.
  • सिलेबस को याद करने के साथ साथ उसे लिखने का भी प्रयास करने चाहिए जिससे आप परीक्षा में पूछे गए प्रश्नों को गति के साथ लिख सके.
  • प्रीलिमनरी और मेंस एग्जाम क्लियर करने के बाद आपको इंटरव्यू पास करना होता है जिसकी तैयारी के लिए आप पहले से ही मॉक इंटरव्यू की तैयारी करते रहें.
  • यदि आपमें अपने लक्ष्य को पाने का जुनून है और आप उसके लिए कड़ी मेहनत करेंगे तो आप जरूर सीडीपीओ ऑफिसर बन सकेंगे.

आशा है कि आपको हमारे द्वारा लिखा गया आज का लेख “सीडीपीओ ऑफिसर कैसे बने” पसंद आया होगा यदि आप ऐसे ही किसी अन्य विषय के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो हमें कमेंट कर सकते हैं.

Leave a Comment