शॉर्ट टर्म कोर्स क्या होता है? | शॉर्ट टर्म कोर्स के फायदे क्या हैं?

अगर आप कम समय में कोई पढ़ाई करना चाहते हैं ग्रैजुएशन या फिर मास्टर्स की डिग्री लेना चाहते हैं उसके बाद फटाफट नौकरी पाना चाहते हैं तो आप कोई शॉर्ट टर्म कोर्स कर सकते हैं और कोर्स करने के बाद अब आसानी से सरकारी या प्राइवेट नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं.

शॉर्ट टर्म कोर्स करने के लिए आपको पढ़ाई में ज्यादा समय नहीं देना पड़ता है मतलब की आप दो 3 साल तक किए जाने वाले कोर्स को कम समय में कर सकते हैं तो ऐसे में अगर आप भी शॉर्ट टर्म कोर्स के बारे में जानकारी लेना चाहते हैं तो आप नीचे दिए गए आर्टिकल को पूरा पढ़ें.

Table of Contents

शॉर्ट टर्म कोर्स क्या होता है?

स्टार्ट टर्म कोर्स ऐसे कोर्स होते हैं जो लगभग छह महीने या 1 साल के होते हैं या ज्यादा से ज्यादा 2 साल के, ऐसे कई सारे कोर्स होते हैं जिन्हें करने के बाद प्राईवेट और सरकारी नौकरियों के लिए आवेदन कर सकते हैं कम समय के कोर्स को करने के लिए आपको किसी विशेष शैक्षणिक योग्यता की जरूरत नहीं पड़ती है इसे आप 10वीं 12वीं या या फिर ग्रैजुएशन की डिग्री हासिल करने के बाद भी कर सकते हैं.

आज के टाइम में नौकरी पाने के लिए मार्केट में नए कौशल की जरूरत होती है क्योंकि इस दौर में रोजाना कि सीनेट किसी टेक्नोलॉजी का विकास तेजी से हो रहा है तो अगर आप भी अपने कैरियर को रफ़्तार देना चाहते हैं और कम समय में कोई कोर्स करके नौकरी पाना चाहते हैं तो आप कोई शॉर्ट टर्म कोर्स कर सकते हैं जिसकी डिटेल्स आपको नीचे दी गई है.

शॉर्ट टर्म कोर्स के फायदे क्या हैं?

शॉर्ट टर्म कोर्स करने से व्यक्ति को कई सारे फायदे होते हैं जो निम्नलिखित हैं

किसी विशेष शैक्षणिक योग्यता की आवश्यकता नहीं

अगर आप किसी शॉर्ट टर्म कोर्स को करना चाहते हैं तो कुछ ऐसे ऐसे इंस्टिट्यूट्स है जो छह महीने या 1 साल का कोर्स ऑफर करते हैं जिन्हें करने के लिए आपको किसी विशेष योग्यता या फिर डिग्री की जरूरत नहीं पड़ती है आप कम से कम योग्यता के साथ उसको उसको कर सकते हैं और इसकी इसी विशेषता के कारण विद्यार्थी को अपने पसंदीदा क्षेत्र में सीखने और आगे बढ़ने का मौका मिलता है

नौकरी बाजार के बीच उचित कनेक्शन स्थापित होना

भारतीय शिक्षा प्रणाली में छात्रों थ्योरी के आधार पर शिक्षा दी जाती है जिंस वजह से नौकरी मार्केट की आवश्यकताओं के हिसाब से नए सब्जेक्ट पर भी ध्यान दिया जाता है और इसकी कमी को दूर करने के लिए शॉर्ट टर्म कोर्स विद्यार्थियों को इंडस्ट्री के हिसाब से जरूरी कौशल देते हैं और उन्हें उनके कौशल के हिसाब से नौकरी दिलाने के लिए काफी मदद भी करते हैं.

विभिन्न प्रकार के ऑप्शंस

वैसे तो आमतौर पर आप छह महीने के कोर्स में भी ये चुनाव कर सकते हैं कि आप कौन सा सब्जेक्ट लेना चाहते हैं क्योंकि आपको बारहवीं यह 10 वीं पास करने के बाद भी कई तरह के शॉर्ट टर्म कोर्स मिलते है जो मुख्यतः एनीमेशन, क्रियेटिव राइटिंग, नाटक के साथ साथ भाषा में उभरती हुई फील्ड को भी जोड़ा जा रहा है

साइंस में शॉर्ट टर्म कोर्सेज

जो स्टूडेंट्स साइंस में इंटरेस्टेड होते हैं और इसमें कोई शॉर्ट टर्म कोर्स करना चाहते हैं उनके लिए ये ऑप्शन्स अवेलेबल है

  • आईओटी प्रोग्रामिंग एंड बिग डाटा
  • फूड सेफ्टी मैनेजमेंट
  • इलेक्ट्रॉनिक मीडिया
  • एनवायरनमेंटल मैनेजमेंट इन यूरोप
  • इलेक्ट्रिकल पावर सिस्टम प्रोडक्शन

कॉमर्स में शॉर्ट टर्म कोर्सेज

जो विद्यार्थी कॉमर्स में इंटरेस्टेड हैं और इसमें कोई शॉर्ट टर्म कोर्स करना चाहता है उनके लिए ये कुछ कोर्स अवेलेबल है-

  • पोस्ट ग्रैजुएट सर्टिफिकेट इन बिजनेस ग्रैजुएट
  • ग्रैजुएट सर्टिफिकेट इन लग्जरी ब्रांड
  • ग्रैजुएट सर्टिफिकेट ऑफ फाइनेंस एंड बैंकिंग
  • ग्रैजुएट सर्टिफिकेट इन बिजनेस (4 महीना) ग्रैजुएट डिप्लोमा इन बैंकिंग एंड फाइनेंस लो पोस्ट ग्रैजुएट सर्टिफिकेट इन इंटरनेशनल डेवलपमेंट
  • ग्रैजुएट सर्टिफिकेट इन प्रोजेक्ट मैनेजमेंट
  • ग्रैजुएट सर्टिफिकेट इन पॉलीटिकल इकोनामी ग्रैजुएट सर्टिफिकेट इन रिस्क पॉलिसी एंड रेगुलेशन (4 महीना)
  • ग्रैजुएट सर्टिफिकेट इन अप्लाइड फाइनेंस ग्रैजुएट सर्टिफिकेट इन फाइनेंस एंड इन्वेस्टमेंट एनालिसिस
  • सर्टिफिकेट इन इंटरनेशनल डेवलपमेंट
  • ग्रैजुएट सर्टिफिकेट इन इकोनामिक एनालिसिस
  • ग्रैजुएट सर्टिफिकेट इन इकोनॉमिक्स

आर्ट्स में शॉर्ट टर्म कोर्सेज

जो स्टूडेंट्स आर्ट्स में अपनी रुचि रखते हैं और इसमें कोई शॉर्ट टर्म कोर्स करना चाहते हैं उसकी लिस्ट नीचे दी गई है-

  • ग्रैजुएट सर्टिफिकेट इन टूरिज्म, होटल एंड इवेंट मैनेजमेंट
  • सर्टिफिकेट इन विजुअल आर्ट
  • यूरोपियन बेकिग एंड पेस्ट्री आर्ट
  • फोटोग्राफी एंड इंट्रोडक्शन टू डिजिटल इमेजिंग (7 महीना)
  • इंटेंसिव लीगल इंग्लिश प्लस इंटरनेशनल लॉ एलएलएम (4 महीना)
  • लीगल स्टडीज- ग्लोबल एक्सेस प्रोग्राम

कानून के क्षेत्र में किए जाने वाले शार्ट टर्म वोकेशनल कोर्स

अगर आप कानून या लॉ में इंटरेस्ट रखते हैं तो आप नीचे दिए गए कुछ वोकेशनल कोर्सेज को कर सकते हैं-

  • एडवांस डिप्लोमा इन इंटरनेशनल लॉ
  • इंटरनेशनल सरट एंड कमर्शियल लॉ
  • बर्कले लीगल स्टडीज ग्लोबल एक्सेस प्रोग्राम
  • डिप्लोमा ऑफ लॉ
  • डिप्लोमा ऑफ लीगल स्टडीज
  • ग्रैजुएट डिप्लोमा इन लॉ

लैंग्वेज कोर्सेज

हमने आपको जो ऊपर जो भी कोर्सेज बताया है वो ज्यादातर 6 महीने के ही हैं इसके अलावा हम आपको अन्य प्रमुख लैंग्वेज कोर्सेज के बारे में बता रहे हैं जिन्हें आप इंडिया या इंडिया के बाहर भी जाकर कर सकते हैं.

  • पीजी सर्टिफिकेट इन मलयालम
  • सर्टिफिकेट इन द रशियन लैंग्वेज
  • सर्टिफिकेट इन स्पोकन तमिल
  • सर्टिफिकेट इन स्पेनिश लैंग्वेज एंड कल्चर
  • सर्टिफिकेट इन स्पोकन इंग्लिश
  • सर्टिफिकेट इन फंग्शनल इंग्लिश
  • सर्टिफिकेट इन लैंग्वेज एंड लिटरेचर | सर्टिफिकेट इन फ्रेंच/ इटालियन/ कोरियन/ जैपनीज
  • सर्टिफिकेट इन कुरियन लैंग्वेज एंड लिटरेचर
  • सर्टिफिकेट इन उर्दू
  • सर्टिफिकेट इन अरेबिक लैंग्वेज

दसवीं के बाद किए जाने वाले शॉर्ट टर्म कोर्स

जिन स्टूडेंट्स ने अपनी दसवीं की परीक्षा पास कर ली है उसके बाद वह कोई कोर्स करना चाहते हैं जिसमें उसे कम समय लगे और ये कोर्स करके वो नौकरी पाना चाहते हैं तो आप नीचे दी गई लिस्ट को चेक कर सकते हैं-

  • इंटीरियर डिजाइनिंग
  • कंप्यूटर हार्डवेयर एंड नेटवर्किंग
  • एविएशन ट्रैवल एंड टूरिज्म
  • कंप्यूटर सॉफ्टवेयर एंड प्रोग्राम
  • पैरामेडिकल कोर्स
  • पॉलिटेक्निक डिप्लोमा इन इंजीनियरिंग
  • आईटीआई/आईटीएस
  • सोशल सर्विस
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन होटल मैनेजमेंट इन
  • सर्टिफिकेट कोर्स इन फाइनेंस,मार्केटिंग एंड रिटेल
  • फार्मेसी
  • एनीमेशन एंड मल्टीमीडिया
  • फैशन डिजाइनिंग
  • इवेंट मैनेजमेंट
  • कैटरिंग टेक्नोलॉजी
  • ब्यूटी कल्चर एंड हेयर ड्रेसिंग

12वीं के बाद शॉर्ट टर्म कोर्सेज

अगर आपने बारहवीं की परीक्षा पास कर ली और आप ग्रैजुएशन की पढ़ाई नहीं करना चाहते हैं या आपकी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है और इसीलिए आप कम समय में कोई कोर्स करके जल्दी नौकरी पाना चाहते हैं तो आइये हम आपको कुछ ऐसे कोर्सेज के बारे में बता देते हैं जिन्हें आप 12वीं के बाद कम समय में कर सकते हैं.

  • डिप्लोमा इन वेब डिजाइनिंग
  • डिप्लोमा इन हॉस्पिटैलिटी मैनेजमेंट
  • डिप्लोमा इन आर्किटेक्चर
  • डिप्लोमा इन एडवरटाइजिंग एंड मार्केटिंग कम्युनिकेशन
  • डिप्लोमा इन ग्राफिक डिजाइनिंग
  • डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजुकेशन
  • डिप्लोमा इन मैकेनिकल इंजीनियरिंग
  • डिप्लोमा इन फैशन डिजाइनिंग
  • डिप्लोमा इन टैक्सेशन
  • डिप्लोमा इन डिजिटल मार्केटिंग
  • डिप्लोमा इन नर्सिंग
  • डिप्लोमा इन बैंकिंग एंड फाइनेंस
  • डिप्लोमा इन जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन
  • डिप्लोमा इन इंटीरियर डिजाइनिंग
  • डिप्लोमा इन लिंग्विस्टिक्स
  • डिप्लोमा एंड साइकोलॉजी
  • डिप्लोमा इन 3D एनीमेशन
  • डिप्लोमा इन एग्रीकल्चर
  • डिप्लोमा इन म्यूजिक
  • डिप्लोमा इन बिजनेस मैनेजमेंट
  • डिप्लोमा इन योगा
  • डिप्लोमा इन कंप्यूटर एप्लीकेशन
  • डिप्लोमा इन आर्ट एंड डिजाइन

ग्रैजुएशन के बाद किए जाने वाले शॉर्ट टर्म कोर्सेज

अगर आपने ग्रैजुएशन की पढ़ाई पूरी कर ली है और उसके बाद कोई अच्छा सा शॉर्ट टर्म कोर्स करना चाहते हैं और नौकरी पाना चाहते हैं तो आप नीचे दी गई लिस्ट को चेक कर सकते हैं-

  • वेब डिजाइनिंग
  • फाइनेंशियल रिस्क मैनेजर
  • क्रिएटिव राइटिंग
  • सर्टिफाइड मैनेजमेंट अकाउंटेंट
  • इवेंट मैनेजमेंट
  • मार्केटिंग एनालिटिक्स
  • मार्केटिंग एनालिटिक्स
  • कंटेंट राइटिंग
  • फोटोग्राफी
  • फॉरेन लैंग्वेज कोर्स
  • टैली कोर्स
  • लॉ पीजीडीएम इन बैंकिंग एंड फाइनेंशियल मैनेजमेंटट
  • बिजनेस अकाउंटिंग एंड टैक्सेशन
  • मास कम्युनिकेशन
  • ट्रैवल एंड टूरिज्म
  • होटल मैनेजमेंट
  • सर्टिफाइड पब्लिक अकाउंटेंट
  • ग्राफिक डिजाइनिंग
  • डिप्लोमा इन रेडियोलॉजिकल टेक्नोलॉजी बिजनेस एनालिटिक्स
  • पीजीडीएम इन मार्केटिंग मैनेजमेंट
  • इंटीरियर डिजाइनिंग कोर्स
  • एनिमेशन
  • पीजीडीएम इन होटल मैनेजमेंट
  • डिजिटल मार्केटिंग

शॉर्ट टर्म कोर्स ऑफर करने वाले विदेशी यूनिवर्सिटीज कौन सी है?

अगर आप विदेश जाकर किसी यूनिवर्सिटी में एडमिशन लेकर कोई छोटा कोर्स करना चाहते हैं तो उसके लिए आप इन कुछ बेस्ट यूनिवर्सिटीज में एडमिशन ले सकते हैं.

नार्थ आइलैंड कॉलेज

क्वांटलेन पॉलिटेक्निक यूनिवर्सिटी

रायर्सन यूनिवर्सिटी

चार्ल्स डार्विन यूनिवर्सिटी

एडिलेड यूनिवर्सिटी

AUT यूनिवर्सिटी

आर्ट यूनिवर्सिटी, लंदन

लिमरिक यूनिवर्सिटी

फांशावे कॉलेज

पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया यूनिवर्सिटी

अल्बर्टा यूनिवर्सिटी

सेंटेनियल कॉलेज

बॉन्ड यूनिवर्सिटी

मोनाश यूनिवर्सिटी

कैंटरबरी यूनिवर्सिsटी

शॉर्ट टर्म कोर्सेज के बाद प्लेसमेंट

अगर आपने कोई शॉर्ट टर्म कोर्स किया है और उसके बाद आप अच्छी नौकरी का पाना चाहते हैं तो आपके पास बहुत सारे ऑप्शन्स होंगे मान लीजिए अगर आपने टैली एनीमेशन हार्डवेयर एंड नेटवर्किंग या फिर कोई फॉरेन लैंग्वेज अथवा वेब डिज़ाइनिंग का कोई कोर्स किया है तो उसकी वजह से आपको अच्छी तनख्वाह वाली नौकरी जल्दी से जल्दी मिल जाती है और आज के टाइम में जीस प्रकार से टेक्नोलॉजी की डिमांड बढ़ रही है उसे देखते हुए मार्केट में कंप्यूटर लैंग्वेज वेब डिज़ाइनिंग और ग्राफिक डिज़ाइनिंग के कोर्स करने वाले स्टूडेंट्स की मार्केट में ज्यादा जरूरत है.

शॉर्ट टर्म कोर्सेज के बाद मिलने वाली नौकरी और सैलरी

अगर आपने कोई शॉर्ट टर्म कोर्स किए हैं उसके बाद आप कौन सी नौकरी पा सकते हैं उसकी सैलरी कितनी हो सकती है इसकी डिटेल्स आपको नीचे दी गई है-     

नौकरी सैलरी
ग्राफिक डिजाइनर 20-25 हजार
वेब डिजाइनर 20-50 हजार
सोशल मीडिया मार्केटिंग स्पेशलिस्ट  26-30 हजार
नेटवर्क इंजीनियर 25-50 हजार
इंजीनियर 20-25 हजार

 

FAQ:

सबसे अच्छा कोर्स कौन सा होता है?

शार्ट टर्म कोर्स

12वीं के बाद कौन सा कोर्स कर सकते हैं?

शॉर्ट टर्म कोर्स

कंप्यूटर में कौन सा कोर्स करना चाहिए?

C++, टैली

आईटी कोर्स कितने दिन का होता है?

कम से कम 6 महीने अधिक से अधिक 3 साल

इंश्योरेंस एजेंट कैसे बने?

Leave a Comment